PAK ने मांगे सर्जिकल STRIKE के सबूत, राजनाथ बोले, सिर्फ 2 दिन रुको सबूत के साथ रीप्ले भी दिखाएंगे

img_20161002052656

PAK अभी तक इस बात को नहीं मान रहा है कि भारतीय सेना ने POK SURGICAL STRIKE की थी। वो INDIA से इसके सबूत भी मांग रहा है। इन सबूतों के सवाल पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने PAK को ‘इंतजार करो और देखो’ की सलाह दी है।

यूनियन होम मिनिस्टर ने रविवार को कहा– हमारे जवानों के पराक्रम को पूरी दुनिया ने देखा और जिस तरीके से उन्होंने मिशन को अंजाम दिया उस पर हमें गर्व है।स्मार्ट टॉयलेट के उद्घघाटन के मौके पर मीडिया ने राजनाथ से सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कई सवाल पूछे। जब उनसे ये पूछा गया कि पाकिस्तान तो सर्जिकल स्ट्राइक को खारिज कर रहा है, और इसके सबूत भी मांगे जा रहे हैं। इस पर राजनाथ ने कहा- इंतजार करो और देखो।

पाकिस्तानी टीवी चैनलों पर कुछ फर्जी वीडियो दिखाए जा रहे हैं। इनके माध्यम से ये झूठ फैलाने की कोशिश की जा रही है कि एलओसी पर भारतीय सेना का बंकर पाकिस्तान ने उड़ा दिया था। सर्जिकल स्ट्राइक की बात को तो पाकिस्तान में सिरे से खारिज किया जा रहा है। इंडियन आर्मी ने इन वीडियोज को फर्जी करार देते हुए इसे पाकिस्तान का प्रोपेगैंडा बताया था।

raj

वेंकैया बोले- स्वच्छ हो गई एलओसी : यूनियन मिनिस्टर वेंकैया नायडू ने कहा है कि पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक से भारत ने एलओसी भी स्वच्छ कर दी है। एक सवाल के जवाब में नायडू ने कहा- कुछ दिनों पहले आपने मोदी को देखा। हमारा पड़ोसी आतंकियों को फंड और ट्रेनिंग दे रहा है। हमारी सेना ने उनको माकूल जवाब दिया। उन्होंने कहा- स्वच्छ मन, स्वच्छ धन, स्वच्छ तन और अब सीमा भी स्वच्छ कर दी गई है। अब हम स्वच्छ भारत की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

बंदी सैनिक को वापस लाने में कुछ दिन लगेंगे : डिफेंस मिनिस्टर मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि पाकिस्तान की कैद में मौजूद भारतीय जवान चंदू बाबूलाल चाव्हाण को देश वापस लाने में कुछ दिन और लगेंगे। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के डीजीएमओ इस बारे में बातचीत कर रहे हैं। बता दें कि भारतीय जवान रास्ता भटकने की वजह से पाकिस्तान की सीमा में दाखिल हो गया था। वहां पाकिस्तान ने उसे कस्टडी में ले लिया था।

loading...