उरी अटैक का बदला: सर्जिकल स्ट्राइक में ISRO ने की थी भारतीय सेना की मदद

isro

उरी हमले के बाद पाकिस्तान पर जवाबी कार्रवाई के तौर की गई SURGICAL STRIKE में ISRO की मदद ली गई थी। पहली बार आर्मी के किसी बड़े ऑपरेशन के लिए CARTOSET SATELLITE का इस्तेमाल किया गया। आखिरी बार इस साल जून में कार्टोसैट सैटलाइट लॉन्च की गई थी। इसरो के सूत्रों के मुताबिक, लाइन ऑफ कंट्रोल पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक में आर्मी को सैटलाइट से मिली हाई रेजॉल्यूशन तस्वीरों से बड़ी मदद मिली।

इसरो के एक सूत्र ने बताया, ‘हम सेनाओं को तस्वीरें उपलब्ध कराते रहे हैं, खासकर आर्मी को। हालांकि मैं इस पर टिप्पणी नहीं कर सकता हूं कि बीते सप्ताह में हमने किसी खास दिन कोई खास तस्वीर भेजी थी। कार्टोसैट इमेज इसी उद्देश्य के लिए होती है और आर्मी ने इनका इस्तेमाल किया है।

हालांकि इसरो और रक्षा मंत्रालय, दोनों ने कार्टोसैट परिवार के सैटलाइट के इस्तेमाल पर चुप्पी साध रखी है। इन सैटलाइट को एक्सपर्ट्स भारत की ‘आई इन द स्काई’ कहते हैं। कार्टोसैट-2C से भारतीय सेना का सर्विलांस यानी निगरानी तंत्र और मजबूत हो गया है। यह सेना को 0.65 मीटर्स की हाई रेजॉल्यूशन तस्वीरें उपलब्ध करा रहा है जो कि पहले की तुलना में काफी बेहतर रेजॉल्यूशन है।

loading...