अभी-अभी: PM मोदी का सबसे बड़ा फैसला, अब भारत से पानी की एक भी बूंद नहीं जाएगी पाकिस्तान

sindhu-1_ibn7_230916

पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सिंधु जल संधि पर कैबिनेट बैठक बुलाई है। इस बैठक में सिंधु जल संधि पर पुर्निवचार किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार एक बड़ा फैसला ले सकता ही है। बैठक में जल संधि के फायदे नुकसान पर चर्चा होगी।

सिंधु जल समझौता 1960 में हुआ। इस पर जवाहर लाल नेहरू और अयूब खान ने दस्तखत किए थे। समझौते के तहत छह नदियों- ब्यास, रावी, सतलज, सिंधु, चेनाब और झेलम का पानी भारत और पाकिस्तान को मिलता है। पाकिस्तान आरोप लगाता रहा है कि भारत उसे समझौते की शर्तों से कम पानी देता है। वो दो बार इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल में शिकायत भी कर चुका है।

loading...